Uncategorized

Uncategorized
0

थे खेलों लाल गुलाल होली गीत Lyrics

थे खेलों लाल गुलाल, होली नित आवे। थे चलो प्रेम री चाल, होली नित आवे। कीचड़ माटी थे न उड़ाओं, भेदभाव ने दूर भगाओं। बणो देश रा लाल, होली नित आवे ।।1।। थे खेलों लाल गुलाल… प्रेम ज्ञान री भर पिचकारी, होली होली खेलो देश पुजारी। हो जावैं देश निहाल, होली नित आवे ।।2।। थे खेलों लाल गुलाल….…